सार्वजनिक निजी भागीदारी से बानापुरा में विकसित पहला माल गोदाम खुला

इटारसी। सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी मोड) के तहत बानापुरा में विकसित आधुनिक माल गोदाम माल यातायात के लिए प्रारंभ कर दिया गया है।

मंडल रेल प्रबंधक सौरभ बंदोपाध्याय के कुशल मार्गदर्शन में निरंतर और कठिन प्रयासों से भोपाल मंडल का बानापुरा माल गोदाम सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी मोड) के तहत विकसित किया गया पश्चिम मध्य रेल का पहला माल गोदाम बना है। रेलवे बोर्ड की नीति अनुसार भोपाल मंडल के बानापुरा माल गोदाम को सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी मोड) के तहत विकास करने हेतु चयनित किया था। अनुबंध की शर्तों के अनुसार निवेशक द्वारा तय समय सीमा के अंतर्गत विकास कार्यों को पूर्ण कर लिया गया है। माल गोदाम (टर्मिनल) का संचालन प्रारंभ कर दिया गया है।

अगले 10 वर्ष तक टर्मिनल की अधोसंरचना का रखरखाव निवेशक द्वारा किया जाएगा। मालभाड़ा ग्राहकों को बेहतर सुविधाओं से युक्त मालगोदाम उपलब्ध होने से माल यातायात में वृद्धि एवं ग्राहक संतुष्टि की प्राप्ति होगी साथ रेलवे की आय में भी वृद्धि होगी। ज्ञात हो कि सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी मोड) निवेश और रोजगार सुनिश्चित करता है और भोपाल मंडल की इस उपलब्धि से रेलवे के साथ-साथ समाज और निजी क्षेत्र को भी लाभ होगा।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!