सुपर-100 योजना के बारे में नहीं जानते तो पढ़ें यह खबर

सुपर-100 योजना के बारे में नहीं जानते तो पढ़ें यह खबर

इटारसी। सुपर 100 योजना (Super 100 Scheme) अंतर्गत छात्रों के चयन हेतु आयोजित प्रवेश परीक्षा वर्तमान सत्र 2022-23 के लिए प्रवेश प्रक्रिया में राज्य मुक्त विद्यालय भोपाल (State Open School Bhopal) द्वारा चयन परीक्षा आयोजित की जा रही है। इस हेतु वर्तमान में ऑन लाइन आवेदन (Online Application) किये जा रहे हैं किन्तु अभी तक लगभग 3000-4000 विद्यार्थियों ने ही आवेदन किये हैं।
उल्लेखनीय है कि कोविड-19 (Kovid-19) के कारण विगत दो वर्षों में चयन परीक्षा का आयोजन नहीं होने से पात्र छात्रों को इसकी जानकारी नहीं है। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि विगत दो वर्षों में चयन परीक्षा का आयोजन एवं सुपर-100 योजना का जिलों में व्यापक प्रचार-प्रसार नहीं होने से ऐसी स्थिति निर्मित हुई है।
आयुक्त लोक शिक्षण (Commissioner Public Teaching) ने जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि जिलों में सुपर-100 योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करायें एवं सभी छात्रों को चयर परीक्षा में भाग लेने हेतु प्रेरित करें ताकि अधिक से अधिक छात्रों को इस योजना का लाभ मिल सके।

क्या है सुपर-100 योजना

पिछले कुछ साल पहले मेधावी छात्रों के लिए ‘सुपर 100’ नामक योजना शुरू की गई थी। जिसके तहत ऐसे छात्र जिनका नाम 10 वीं कक्षा की मेरिट लिस्ट (Merit List) में पहले और दूसरे स्थान पर था, उन्हें भोपाल (Bhopal) और इंदौर (Indore) के सबसे प्रसिद्ध सरकारी स्कूल में कक्षा 11वीं और 12 वीं में मुफ़्त में एडमिशन (Admission) मिलता था। किन्तु इस साल इस योजना में कुछ संशोधन किया गया है। इस साल 10 वीं कक्षा के मेधावी छात्र जिनका नाम मेरिट लिस्ट में शामिल है, उन्हें सुपर 100 योजना का हिस्सा बनने के लिए एक और परीक्षा देनी होगी। उसके बाद उस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले 100 विद्यार्थियों को भोपाल और इंदौर के टॉप (Top) के सरकारी स्कूलों में मुफ़्त में एडमिशन और अन्य कोचिंग दी जाएगी।
सुपर 100 योजना के अनुसार सभी मेधावी छात्रों को भोपाल के सुभाष हायर सेकेंडरी स्कूल (Subhash Higher Secondary School) और इंदौर के मल्हार आश्रम स्कूल (Malhar Ashram School) में मुफ़्त में एडमिशन दिया जायेगा। इसके अलावा, उन्हें वहां रहने के लिए हॉस्टल (Hostel) भी मुफ़्त में दिए जायेगा, यहां तक कि उनके खाने-पीने का भी पूरा खर्चा गवर्मेंट (Government) द्वारा ही किया जायेगा। इस योजना के तहत छात्रों को न सिर्फ कक्षा 11 वीं और 12 वीं की पढ़ाई मुफ़्त में कराई जाएगी, बल्कि इसके साथ ही उन्हें प्रतियोगी परीक्षा की पढ़ाई भी मुफ़्त में कराई जाएगी। लाभार्थी छात्रों को इंजीनियरिंग (Engineering), आईआईटी (IIT), जेईई ( JEE), सीए (CA) और मेडिकल (Medical) की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग (Coaching) 2 साल तक मुफ़्त में कराई जाएगी ताकि वे बिना किसी परेशानी के अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे सकें।
छात्रों को खुद के व्यक्तिगत खर्च के लिए हर महीने 150 रूपये दिए जायेंगे, जोकि 10 माह की अवधि तक प्रदान किये जाएंगे। इस योजना के तहत ‘सुपर 100’ की परीक्षा देने के लिए वे छात्र पात्र हैं, जो अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से संबंध रखते हैं। इसी के साथ उन्हें एमपी बोर्ड (MP Board) द्वारा द्वारा आयोजित की गई कक्षा 10 वीं की परीक्षा में 70 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए हों। इसके अलावा वे विद्यार्थी जो सामान्य एवं पिछड़े वर्ग से संबंध रखने वाले हैं उन्हें 10 वीं कक्षा में 85 प्रतिशत प्राप्त हुए हों, वे सभी इस परीक्षा में बैठने के पात्र हैं।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!