BREAK NEWS

शिव का तीसरा नेत्र खुलते, हुक्का लाउंज पर प्रहार

शिव का तीसरा नेत्र खुलते, हुक्का लाउंज पर प्रहार

* राजधानी से पंकज पटेरिया :
सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का तीसरा नेत्र खुलते ही राजधानी की साफ-सुथरी फिजा में नीला स्याह धुएं का प्रदूषण घोल रहे हुक्का लाउंज पर जिला प्रशासन, पुलिस, आबकारी की संयुक्त टीम ने कठोर प्रहार कर नशे की लंका ध्वस्त कर दी।सीएम की शक्ति के बाद राजधानी में नशे के खिलाफ संयुक्त रुप से छेड़े गए ऑपरेशन प्रहार के तहत ढाबे, रेस्टोरेंट, वार और हुक्का लाउंज पर की गई तावड़ तोड़ कार्यवाही से इस तथाकथित नशे के कारोबार करने वाले लोगों के होश फाख्ता हो गए। सीएम ने गांधी जयंती 2 अक्टूबर से शुरू किए गए नशा मुक्ति अभियान मामले में सख्त निर्देश जारी करते हुए कहा है कि किसी भी जिले में अवैध शराब की बिक्री की सूचना मिलती है तो सख्त कदम उठाना होगा। मुख्यमंत्री ने बेहद सख्त ऐसे में ताकीद किया है कि हुक्का लाउंज कहीं भी नहीं चलना चाहिए। उन्होंने कहा खुफिया तंत्र मजबूत करें यदि इस मामले में किसी भी बड़े व्यक्ति पर शक की सुई जाती है तो उसे किसी भी कीमत पर ना बख्शे।

लाइसेंस निरस्त होंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान का तीसरा नेत्र खुलते ही प्रशासन पूरी तरह चाक-चौबंद हो गया है और ऑपरेशन प्रहार को संचालित कर रहा है। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक और अन्य अधिकारियों को साफ तौर पर निर्देश दिया है कि नशे के इस काले धंधे को पूरी तरह नष्ट करो। उन्होंने कहा ऐसे रेस्टोरेंट जहां इस तरह की गतिविधियां चल रही हो उनके लाइसेंस रद्द करो। किसी भी जिले से ऐसे कारोबार की शिकायत मिली तो वहां के एसपी और टीआई के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

दोनों अफसर नर्मदापुरम के

पुण्य सलिला मां नर्मदा की गोद में बसे नर्मदापुरम में रहे कभी दो लोकप्रिय अधिकारी अविनाश लवानिया और मकरंद देउसकर आज राजधानी के एक कुशल कर्मठ अधिकारी हैं। जिन के निर्देश में और आबकारी अधिकारियों की टीम ने नशे के कारोबारियों के होश उड़ा दिए। कोई 60 से ज्यादा हुक्का लाउज पर की गई कारवाही से राजधानी में स्वागत हुआ है और शासन-प्रशासन की शान में तारीफ के गलीचे बिछाए गए हैं।
उल्लेखनीय हैं कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया कभी नदापुरम के कलेक्टर थे और पुलिस कमिश्नर मकरंद देउसकर नर्मदापुरम में पुलिस कप्तान थे। आज भी उनके तेवर में कहीं फर्क नहीं आया है। मालूम हो मुख्यमंत्री जी ने दो टूक शब्दों में कहा था कि सूबे में हुक्का लाउंज किसी भी हालत में संचालक नहीं होगा और कहीं संचालन होने की खबर मिली तो बुलडोजर चला दिया जाएगा। यहां यह जिक्र मौजू होगा प्रशासन ऐसी दुरावस्था और गलत कारोबार के ऊपर तबज्जो तब क्यों देता है जब शिव का तीसरा नेत्र खुलता है।


नर्मदे हर
पंकज पटेरिया
वरिष्ठ पत्रकार साहित्यकार
9340244352 ,9407505651

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!