गुरूवार, मई 30, 2024

LATEST NEWS

Related Posts

मध्यप्रदेश का बजट सोशल डॉक्यूमेंट ही नहीं विकास को गति देने वाला बजट है : डॉ. शर्मा

आर्थिक सर्वेक्षण एवं बजट पर संभाग स्तरीय परिचर्चा समारोह आयोजित
नर्मदापुरम।
मध्यप्रदेश का बजट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के संकल्प को साकार करने वाला है। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा बजट को आम जन के समक्ष प्रस्तुत करने संभाग स्तर पर अधिकारियों की टीम भेजकर कार्यक्रम के माध्यम से बजट की बारीकियों से अवगत कराने परिचर्चा कराई जा रही है।

यह बात पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं विधायक डॉ सीतासरन शर्मा ने शनिवार को नर्मदा महाविद्यालय में आयोजित आर्थिक सर्वेक्षण एवं बजट पर परिचर्चा समारोह के दौरान कही। उन्होंने कहा कि बजट सोशल डाक्यूमेंट ही नहीं मप्र के विकास को गति देने वाला बजट है। बजट जनता तक पहुंचना है। यह बजट सरकार की सोच को प्रदर्शित करने वाला है।

इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती नीतू यादव, इटारसी नपाध्यक्ष पंकज चौरे, जनपद अध्यक्ष भूपेंद्र चौकसे, मप्र प्लानिंग एवं पालिसी कमीशन भोपाल के ओएसडी राजीव जैन, अटल बिहारी बाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान भोपाल की प्रिंसीपल एडवाइजर सुप्रभा पटनाक, नर्मदापुरम कमिश्नर श्रीमन् शुक्ला, कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, प्राचार्य डॅा ओएन चौबे सहित कॉलेज के प्राध्यापक, उद्योगपति, व्यापारी सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि, विद्यार्थी और नागरिक शामिल रहे। परिचर्चा के दौरान अनेक लोगों के प्रश्नों के उत्तर भी दिए गए।

मप्र प्लानिंग एवं पालिसी कमीशन भोपाल के ओएसडी श्री जैन ने कहा कि आर्थिक सर्वेक्षण वित्तीय वर्ष में अर्थव्यवस्था की स्थिति को दर्शाता है। जबकि बजट दस्तावेज़ में सभी स्रोतों से राजस्व की समेकित रिपोर्ट और सभी गतिविधियों के व्यय और बजट संसाधनों के अनुमान शामिल होते हैं। सरकार ने राज्य के आर्थिक और वित्तीय मुद्दों को जोडऩे और बेहतर ढंग से समझने के लिए इन दोनों दस्तावेजों को अपने नागरिकों तक पहुंचाने का फैसला किया है।

श्रीमती पटनायक ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान की सोच है कि बजट जनता तक पहुंचे। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने कहा कि बजट विकास की गतियों को तेज करने का प्रमुख माध्यम है। शासन आय प्राप्त करता है उसे किस प्रकार व्यय करना है इसे समाहित किया जाता है। इस बार का बजट 3 लाख 14 हजार करोड़ का बजट है। इसमें राजस्व व्यय, पूंजीगत व्यय, शासकीय व्यय पर प्रकाश डालते हुए खर्च और आय के अनेक उदाहरण प्रस्तुत किए।

प्रोफेसरों ने बताई बजट की बारीकियां

माखन नगर के प्रोफेसर डॉ अमिताभ शुक्ला ने बजट का विश्लेश्ण करते हुए बजट में रखे हुए प्रावधानों का विस्तृत ब्योरा प्रस्तुत करते हुए नारी शक्ति, युवा, जनजातिय विकास, कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, उद्योग, नगरीय विकास सहित धार्मिक स्थलों के विकास पर होने वाले प्रावधानों की जानकारी दी। पीजी कालेज पिपरिया की प्रोफेसर डॉ अनिता सेन ने बजट में नारी शक्ति के सशक्तिकरण, लाड़ली बहना योजना, मुख्यमंत्री बालिका स्कूटी योजना, सीएम राइज स्कूल, राज्य के युवाओं के लिए 1 लाख नई नौकरियों, स्वरोजगार के अवसर सहित आत्मनिर्भर मप्र के संदर्भ में बजट का प्रस्तुतिकरण किया।

अनेक लोगों ने किए प्रश्न दिए सुझाव

उद्योग संघ के गौरव सेठ, व्यापारी मनोहर बढ़ानी, हरदा से आए महेश गुर्जर, नर्मदा महाविद्यालय के छात्र हिमांशू नागवंशी, वंदना मीना, श्रेयांस सहित कालेज के प्रोफेसर व अन्य नागरिकों ने बजट पर अपनी जिज्ञासा व्यक्त की तथा सुझाव दिए जिसके उत्तर कलेक्टर श्री सिंह, के साथ अन्य अधिकारियों ने दिए।
कार्यक्रम में संयुक्त आयुक्त जीसी देाहर, एडीएम मनोज कुमार ठाकुर, संयुक्त संचालक महिला बाल विकास हरीकृष्ण शर्मा, एसडीएम Ÿ मोहनी शर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती फरहीन खान, सीएमओ नवनीत पांडेय, सहित अनेक अधिकारी शामिल रहे। संचालन डॉ हंसा व्यास ने तथा आभार प्रदर्शन प्राचार्य डॉ ओएन चौबे ने किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

TECHNOLOGY

error: Content is protected !!