गिरवी रखा सोना नीलामी के विरोध में ग्राहकों का हंगामा

गिरवी रखा सोना नीलामी के विरोध में ग्राहकों का हंगामा

इटारसी। तीसरी लाइन में संचालित आईआईएफएल फाइनेंस (IIFL Finance) पर धोखा देकर सोने के जेवर बेचने का मामला सामने आया है। करीब दर्जन भर बैंक ग्राहकों ने गुरूवार को बैंक के बाहर हंगामा करते हुए नारेबाजी की। हंगामा होने पर गुरूवार को भोपाल (Bhopal) से आए अधिकारियों ने ग्राहकों से बात कर भोपाल बुलाकर मामले का निपटारा करने का आश्वासन दिया है। टीआइ रामसनेही चौहान (TI Ramsnehi Chauhan) ने भी बैंक अफसरों से बात की है।
पुरानी इटारसी निवासी जित्तू राजपूत (Jittu Rajput) ने बताया कि उन्होंने फरवरी 2021 में अपना साढ़े छह तौला सोना गिरवी रखकर करीब दो लाख रुपए का ऋण लिया था। मई माह में तय ब्याज 10 हजार एवं दिसंबर में 6 हजार रूपये जमा भी किए। बुधवार को जब वे ऋण राशि अदा कर अपने जेवर लेने बैंक पहुंचे तो अधिकारियों ने कहा कि आपका सोना तो नीलाम हो चुका है, जबकि उन्हें बैंक से किसी तरह का नोटिस, स्मरण पत्र या अखबार में सूचना नहीं दी गई। राजपूत के साथ सर्व ब्राह्मण समाज जिलाध्यक्ष जितेन्द्र ओझा (Jitendra Ojha) ने बुधवार को आंदोलन की चेतावनी दी, इसके बाद इस फाइनेंस कंपनी (Finance Company) से पीडि़त अन्य पुराने ग्राहक भी बैंक पहुंचे। सौरभ पटेल (Saurabh Patel) ने बताया कि उनका सोना भी धोखा देकर डुबो दिया गया है। एक ग्राहक की दो अंगूठियां नीलाम हो गईं, जब शिकायत की तो एक अंगूठी लौटा दी गई।
ग्राहकों ने बैंक के बाहर हंगामा कर किसी भी ग्राहक को अंदर नहीं जाने दिया। कई ग्राहकों को गांधीगिरी दिखाकर गुलाब का फूल देकर लौटाया गया। ओझा ने बताया कि सोने पर सस्ता ऋण देने का झांसा देकर बैंक बिना सूचना सोना नीलाम कर रही है, ग्राहकों को कोई नोटिस, सूचना पत्र नहीं दिया गया है। एक ग्राहक का एक तौला सोना गिरवी रखकर 8 ग्राम की पर्ची दी गई है, रोज यहां ऐसे ग्राहक आकर प्रताडि़त हो रहे हैं।
इधर हंगामे के बाद इस मामले में बैंक प्रबंधक अंकुर साहू (Ankur Sahu) ने बताया कि कंपनी की शर्तों के अनुसार मुंबई (Mumbai) मुख्यालय से नोटिस जारी होते हैं, ग्राहकों को फोन कर सूचना भी दी जाती है। नीलामी प्रकिया भी भोपाल से ही होती है।


TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!