‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के अंतर्गत विभिन्न प्रतियोगिताएँ संपन्न

‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के अंतर्गत विभिन्न प्रतियोगिताएँ संपन्न

इटारसी। शासकीय महात्मा गांधी स्मृति स्नातकोत्तर महाविद्यालय इटारसी (Government Mahatma Gandhi Memorial Post graduate College Itarsi) में दिनांक 12/09/2022 को ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ (Azadi Ka Amrit Mahotsav) के अंतर्गत देशभक्तिगीत, कविता, ज्ञात तथा अज्ञात बलिदानों की प्रेरक कहानियां, भाषण एवं फैंसी ड्रेस आदि अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

देश भक्ति गीत प्रतियोगिता में दर्शना इवने ने प्रथम, मयूर चौधरी तथा मेहरू न्निसा ने द्वितीय, आदित्य परसाई तथा मोनिका सूर्यवंशी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में महिमा केवट ने प्रथम, पूजा मालवीय तथा राधिका ने द्वितीय, सविता केवट तथा किरण यादव ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कविता प्रतियोगिता में मयूर चौधरी ने प्रथम, अक्षय चौधरी तथा मयंक यादव ने द्वितीय, मोनिका सूर्यवंशी तथा निखिल यादव ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

भाषण प्रतियोगिता में मयंक यादव ने प्रथम,  तृप्ति ओंकार ने द्वितीय तथा सोनिया केवट ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। ज्ञात तथा अज्ञात बलिदानों की प्रेरक कहानियां प्रतियोगिता में मयंक यादव ने प्रथम, सलोनी सराठे ने द्वितीय तथा दिग्गज कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

संस्था की प्राचार्य प्रो. राकेश मेहता (Principal Prof. Rakesh Mehta) ने छात्रों को प्रेरित तथा विजयी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस महोत्सव को मनाने का एक मुख्य उद्देश्य अंग्रेजों की 200 वर्षों की गुलामी के बाद मिली आजादी को बनाएँ रखना है। दूसरा प्रमुख उद्देश्य आजादी को पाने हेतु दिए गए वीर सपूतों के बलिदानों को याद करना है और तीसरा मुख्य उद्देश्य इस उत्सव के जरिए सभी देशवासियों को संघर्षों से मिली आजादी का मूल्य समझाना है और उनमें देशभक्ति की भावना को बढाना है।

साथ ही बीते 75 वर्षों में देश द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियां बतलाना है। इस महोत्सव ने हम देशवासियों को स्वतन्त्रता संग्राम की महान गाथा को विस्तार से जानने का मौका दिया और आजादी की लड़ाई में योगदान देने वाले एक-एक वीर सेनानी को खोजकर देश के सामने लाया गया है। हम भारत वासी यह तो जानते ही थे कि हमारे भारत देश को सोने की चिड़िया कहा जाता था।

किंतु इस सोने की चिड़िया का इतिहास भी इतना स्वर्णिम है, यह जानने का अवसर हमें इस महोत्सव के कारण ही मिल पाया है। इस कार्यक्रम के प्रभारी डॉ संतोष कुमार अहिरवार (In-charge Dr. Santosh Kumar Ahirwar) ने इस कार्यक्रम की विस्तृत रूपरेखा बच्चों के समक्ष प्रस्तुत की और बताया की विजयी प्रतिभागियों को जिला तथा राज्यस्तर पर महाविद्यालय का प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिलेगा।

इस कार्यक्रम में डॉ.ओ.पी.शर्मा, डॉ.रश्मि तिवारी तथा डॉ.मनीष चौरे निर्णायक की भूमिका में उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम का संचालन श्रीमति एकता मलोनिया (Mrs. Ekta Malonia) ने किया। संस्था के सभी प्राध्यापक तथा बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!