सप्ताह में सातों दिन खुलेंगे कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र
सप्ताह में सातों दिन खुलेंगे कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र

सप्ताह में सातों दिन खुलेंगे कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र

इन तारीखों में होगा कोविड टीकाकरण महाअभियान

होशंगाबद। प्रदेश के शत-प्रतिशत लक्षित व्यक्तियों को दिसंबर माह अंत तक कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज लगाने रणनीति बनाई गई है। सप्ताह के सातों दिन कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र पर टीकाकरण किया जा रहा है। कोविड टीकाकरण महा-अभियान 10, 17, 24 नवंबर और 4 दिसंबर को संचालित किया जायेगा। (covid vaccination campaign)
कोरोना वैक्सीन से शेष रहे लोगों और दूसरी डोज से शेष रहे लोगों को चिन्हित कर उन्हें टीकाकरण केन्द्र तक पहुंचाने और उनका टीकाकरण सुनिश्चित कराने सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

नवाचार और रणनीति अपनाने कहा
प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) के लिये किये नवाचारों को देखते हुए शत-प्रतिशत व्यक्तियों का टीकाकरण कराने में कारगर नवाचार और रणनीति को अपनाने को कहा है। रणनीति में सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों से कहा है कि कोविड-19 टीकाकरण के लिये व्यवस्थित ढंग से ऐसे प्रयास करें, जिससे टीका लगवाने से कोई भी व्यक्ति वंचित नहीं रहे। इसके लिये ऐसे लोगों को चिन्हित कर उनकी सूची तैयार की जाये, जिन्होंने एक भी टीका नहीं लगवाया है। इसके बाद एक टीका लगवा चुके व्यक्तियों की सूची बनाई जाये। कोविड टीके की दोनों डोज लगवाने वाले व्यक्तियों की भी सूची बनाई जाये।

पलायन वाले परिवार की सूची बनायें
सभी व्यक्तियों को चिन्हित करने के लिये निवास स्थान छोड़ चुके अथवा अपने निवास स्थान से अन्य स्थान के लिये पलायन करने वाले परिवारों की सूची भी बनाई जाये। कोविड-19 टीकाकरण का प्रतिरोध करने वाले परिवारों को चिन्हित कर उनकी भी सूची बनायी जायेगी। परिवारों का चिन्हांकन कर टीकाकरण कराने में आशा कार्यकर्ता, सहायिका, स्व-सहायता समूह, ग्राम पंचायत के सचिव, रोजगार सहायक, कोटवार, पटवारी, शिक्षक, शासकीय उचित मूल्य दुकानों के सेल्समेन, मनरेगा के मजदूर, सहकारिता संस्थाओं के सदस्य, वन-रक्षक समिति के सदस्य और उनके परिवार को दायित्व सौंपा है। यह सभी विभागवार योजना बनाकर शत-प्रतिशत व्यक्तियों को पहला और दूसरा डोज लगवाना सुनिश्चित करेंगे।

विभागवार दायित्व सौंपे गये
पात्र व्यक्तियों को शत-प्रतिशत वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने के लिये विभागवार दायित्व दिये गये हैं। स्कूल और महाविद्यालय के विद्यार्थियों को उनके परिवार को वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने जागरूक और प्रेरित करने का दायित्व दिया है। गर्भवती महिलाओं और धात्री माताओं का टीकाकरण करवाने का कार्य महिला-बाल विकास विभाग की आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ता करेंगी। राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना और ग्रामीण आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूह द्वारा श्रमिकों और उनके परिवारों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जायेगा। सुदूर वन क्षेत्र में रहने वाले व्यक्तियों का वन-रक्षक और वन समितियों द्वारा टीकाकरण करवाना सुनिश्चित किया जायेगा। परिवहन विभाग बस-स्टॉप और वाहनों के माध्यम से टीकाकरण संबंधी जन-जागरूकता बढ़ाने में सहयोग करेगा। एनसीसी और स्काउट गाइड के छात्र-छात्राएं वैक्सीनेशन का प्रतिरोध करने वाले परिवारों को टीकाकरण के लिये प्रेरित करेंगे।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!