इंटरनेशनल संस्था हार्टफुलनेस का ध्यान शिविर 15 नवंबर को इटारसी में

इंटरनेशनल संस्था हार्टफुलनेस का ध्यान शिविर 15 नवंबर को इटारसी में

व्यवस्थाओं को लेकर साईंकृष्णा रिसोर्ट में हुई बैठक
इटारसी।
आज के तनाव भरे जीवन में यदि चित्त को शांत रखना है तो ध्यान एक मजबूत क्रिया है। ध्यान करने से आत्मिक तथा मानसिक शक्तियों का विकास होता है। जिस वस्तु को चित में बांधा जाता है उस में इस प्रकार से लगा दें कि बाह्य प्रभाव होने पर भी वह वहां से अन्यत्र न हट सके, उसे ध्यान कहते हैं।
ध्यान की इसी क्रिया को करके यदि आप चित्त को शांत और जीवन को सरल बनाना चाहते हैं तो आपके लिए जल्द ही एक बेहतर अवसर उपलब्ध होने वाला है। हार्टफुलनेस संस्था के माध्यम से 15 नवंबर को साईंकृष्णा रिसोर्ट में एक शिविर का आयोजन होने वाला है। शिविर आयोजन के लिए आज शाम साईंकृष्णा रिसोर्ट में एक बैठक हुई जिसमें संस्था से जुड़े सदस्यों ने कार्यक्रम तय किये।
संस्था के डॉ. कमल वाधवा ने बताया कि शिविर में डॉ. गोरख परुलकर और डॉ.आरके श्रीवास्तव मुख्य वक्ता रहेंगे जो ध्यान के विषय में आवश्यक बातें अत्यंत सरल भाषा में बताएंगे, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसे समझकर अपना सकें। शिविर शाम 3 से 5 बजे के बीच आयोजित किया जा रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ उठा सकें। शिविर में शामिल होने के लिए ई-फार्म भी जल्द ही जारी होगा, इसके अलावा जो नागरिक इसमें शामिल होना चाहते हैं, वे भी शिविर स्थल पर पंजीयन करा सकते हैं।
बैठक में एसडीओ राजस्व मदन सिंह रघुवंशी, संस्था से जुड़े डॉ. कमल वाधवा, डॉ. अजीत राजपूत, डॉ. योगेश, गौरव उपाध्याय, इटारसी से गोलू मालवीय और शिविर में सहयोगी डॉ. पीएम पहारिया, सत्यम अग्रवाल, पंकज गोयल, सुश्री मंजू ठाकुर सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!