नवाचारों के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिलाएं: कमिश्नर

नवाचारों के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिलाएं: कमिश्नर

कोरोना संक्रमण काल में शिक्षा हेतु ऑन लाइन प्लेटफार्म एक बेहतर विकल्प

होशंगाबाद। कमिश्नर नर्मदापुरम् रजनीश श्रीवास्तव Commissioner Rajneesh Srivastava कोरोना संक्रमण काल में विभिन्न नवाचारो Innovations के माध्यम से विद्यार्थियों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा Quality education उपलबध कराए। अध्यापन कार्य के लिए शिक्षक विभिन्न नवाचारों का उपयोग करें जिससे बच्चों की पढ़ाई बाधित न हो। कमिश्नर श्रीवास्तव ने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में शिक्षण कार्य हेतु ऑनलाइन प्लेटफार्म Online platform एक बेहतर विकल्प साबित हो रहा है, इसका अधिक से अधिक उपयोग करें। कमिश्नर श्रीवास्तव ने आज कमिश्नर कार्यालय Commissioner’s office के सभाकक्ष में संभाग के विभिन्न संकाय के शिक्षको से चर्चा की। उन्होंने शिक्षकों द्वारा अध्ययन-अध्यापन कार्य हेतु अपनाए जा रहे विभिन्न नवाचारो के संबंध में जानकारी ली। इस दौरान संयुक्त संचालक लोक शिक्षण एसके त्रिपाठी SK Tripathi सहित संभाग के जिलों के विभिन्न विद्यालयों के शिक्षक उपस्थित रहे।

कमिश्नर श्रीवास्तव ने कहा कि संभाग के तीनों जिले के लिए प्राथमिक/माध्यमिक शाला से लेकर विभिन्न संकायों पर आधारित एक यू-टयूब चैनल बनाए जाने की दिशा में कार्य करें। शिक्षकों द्वारा अध्यापन कार्य हेतु तैयार किए जा रहे विभिन्न वीडियो क्लीपिंग को इस यू ट्यूब चैनल में अपलोड करें ताकि विद्यार्थी उस शिक्षण सामग्रियों का उपयोग कर सकें। इस वर्ष हमारे संभाग के 10 वी व 12 वी कक्षा के परीक्षा परिणाम में छात्र-छात्राओं ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। लगभग 1500 से अधिक विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए हैं। विद्यार्थियों में क्षमताएं बहुत अधिक हैं, शिक्षक विद्यार्थियों को विभिन्न क्षेत्रो में केरियर हेतु मार्गदर्शन प्रदान करें तथा उन्हें बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराए।

बैठक में उत्कृष्ठ विद्यालय के शिक्षक राकेश पाराशर ने बताया कि उन्होंने विज्ञान जत्था के नाम से एक नवाचार किया है। जिसके द्वारा वाहन के माध्यम से विभिन्न विकासखंड के विद्यार्थियों तक जाकर उन्हें विभिन्न प्रायोगिक उपकरणों के माध्यम से खेल-खेल में विज्ञान में आधारित शिक्षा उपलब्ध कराई जाएगी। शिक्षक राजेश पाराशर एवं सांडिया हायर सेकेण्ड्री स्कूल की शिक्षिका सारिका घारू ने घर्षण बल, उत्तल अवतल लैंस, फोकस दूरी, वर्मी कम्पोस्ट, उर्जा संरक्षण, कोरोना संक्रमण से जागरूकता आदि उपकरणों का प्रदर्शन बैठक में किया।

ग्राम भडूस जिला बैतूल के शिक्षक संजीव धुर्वे ने बताया कि उन्होंने संकुल भडूस के समस्त विद्यार्थियों को लॉक डाउन के दौरान भी सतत शिक्षा से जोड़ा रखा। ग्राम के 9 ग्राम पंचायतों में सरपंच ,सचिव, रोजगार सहायक एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियो के माध्यम से सामुदायिक भवनो में फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए टेलीविजन के माध्यम से शिक्षण कार्य किया गया है। साथ ही आकाशवाणी एवं लाउडस्पीकर के माध्यम से भी बच्चो तक शिक्षा पहुंचाई। इसी तरह संभाग के विभिन्न विद्यालयों के शिक्षकों ने उनके द्वारा अध्ययन-अध्यापन कार्य हेतु अपनाए जा रहे नवाचारों के संबंध में जानकारी दी।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: