झमाझम बारिश के बीच दोपहर ढाई बजे अंधेरा छाया

झमाझम बारिश के बीच दोपहर ढाई बजे अंधेरा छाया

बाजार की दुकानों में जलाना पड़ी लाइट

इटारसी। गुरुवार की रात से प्रारंभ झमाझम बारिश का दौर दूसरे दिन भी जारी था। शुक्रवार को सुबह से हो रही रिमझिम के बाद दोपहर में मूसलाधार पानी बरसा और दोपहर ढाई बजे तो दोपहर में ही शाम का नजारा बन गया। ऐसा लगा जैसे सूर्यास्त के बाद बाजार की दुकानों में लाइट जलाना पड़ता है। अंधेरा होने पर दोपहर में ही दुकानदारों ने लाइट जला ली थी।शुक्रवार को सुबह से दोपहर तक मौसम(weather) ने रूप बदले। सुबह की शुरुआत रिमझिम से हुई। दोपहर में यह रिमझिम झमाझम में बदल गयी और शाम तक रुक-रुककर कभी तेज तो कभी धीमी बारिश(Rain) होती रही। इसके पहले गुरुवार की रात से तेज बारिश का दौर प्रारंभ हो गया था। रातभर खूब पानी बरसा और सीजन में पहली बार चौबीस घंटे में इटारसी में 144 मिमी बारिश हो गयी। शुक्रवार को दोपहर दो से ढाई बजे के बीच शहर में धुआंधार बारिश हुई। गणेश चतुर्थी के एक दिन पूर्व पानी गिरने और मौसम का मिजाज देखकर लगता है कि पूरे गणेश उत्सव में मानसून इसी तरह सक्रिय रहेगा।

सड़कों पर भरा पानी
लगातार बारिश ने शहर की सड़कों को भी जलमग्न कर दिया। रातभर की बारिश के बाद मेहरागांव की पहाड़ी नदी के पुल के ऊपर से पानी बह रहा था। बहाव इतना तेज था कि यहां पुलिस के जवानों की तैनाती करनी पड़ी। ये जवान लोगों को तेज बहाव के बीच रपटा पार करने से रोक रहे थे। इसके अलावा शहर के लाइन क्षेत्रए तेरहवी लाइन से न्यास कालोनी रोडए राधाकृष्ण मार्केट के आसपासए भारत टाकीज क्षेत्र से गल्र्स स्कूल रोड सहित अनेक सड़कों पर पानी भर गया था। इसी तरह से शहर की निचली बस्तियों में भी कई स्थानों पर जलभराव से लोगों को परेशान होते देखा गया है।

साढ़े चार घंटे में निकला पानी
शहर के वार्ड क्रमांक 2 में इतना पानी जमा था कि यहां टापू जैसे हालात बन गये थे। नगरपालिका(Nagarpalika) के अमले ने आज सूचना मिलने पर वहां पहुंचकर साढ़े चार घंटे की मशक्कत के बाद पानी निकाला। सब इंजीनियर आदित्य पांडेय(Sub Engineer Aditya Pandey) ने बताया कि इसके लिए एक रोड को तोड़कर नाली बनायी गयी हैए जिससे पानी निकाला गया। उन्होंने कहा कि अब यहां से बारिश के पानी की निकासी होगी और यहां जलजमाव की स्थिति नहीं बनेगी।

पुलिया से डिस्पोजल, पन्नियां निकलीं
सड़कों पर जल जमाव को खत्म करने कई पुलिया के नीचे सफाई की गई। स्वच्छता निरीक्षक आरके तिवारी ने बताया कि पुलियाओं के नीचे से पॉलिथिन बैग्स और डिस्पोजल निकाले हैंए इनसे ओवरफ्लो हो रहा था। सफाई कर्मियों ने पहली लाइनए चिकमंगलूर चौराहए आरएमएस तिराहाए सुहाग मैरिज हाल के पासए विश्वनाथ तिराहाए एमजीएम कालेजए गैरेज लाइन क्षेत्र में पुलियाओं की नीचे से ये चीजें निकालकर निकासी करायी।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: