राष्ट्रीय व्यक्तित्व थे मेरे मित्र शरद यादव : नीखरा

राष्ट्रीय व्यक्तित्व थे मेरे मित्र शरद यादव : नीखरा

इटारसी। कांग्रेस सेवा दल के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व सांसद व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर नीखरा ने शुक्रवार को यहां कहा कि मेरे मित्र शरद यादव राष्ट्रीय व्यक्तित्व थ।े हम दोनों ने जबलपुर में छात्र जीवन से राजनीति शुरू की, दोनों ही मित्र कॉलेज की राजनीति करते रहे, आज उनके निधन से में बहुत दुखी हूं। मैं उन्हें श्रद्धांजलि वयक्त करता हूं।

श्री नीखरा ने उन्हें याद करते हुए कहा कि 1974 में जयप्रकाश नारायण की संपूर्ण क्रांति में यह तय हुआ कि कांग्रेस के खिलाफ सब पार्टियां मिलकर केवल एक ही प्रत्याशी उतारेगी, तब उन्हें जबलपुर से चुनाव लड़ाया गया और वह चुनाव जीते। इसके बाद उन्होंने अपनी छवि को राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित किया वह लोहिया बादी रहे। उन्होंने गरीबों मजदूरों की आवाज उठाई वह यूपी-बिहार और हरियाणा से भी राज्यसभा सदस्य रहे। निश्चित ही उनके इस प्रकार से चले जाने से देश की राजनीति में उनकी कमी हमेशा महसूस होगी। मेरे मित्र होने के नाते मैं बहुत दुखी हूं। शरद यादव के चले जाने से मुझे व्यक्तिगत क्षति हुई है।

श्री नीखरा ने कहा कि देश का एक अच्छा राजनेता अभी दुनिया नहीं रहा। श्री नीखरा सर्व ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष जितेंद्र ओझा के निवास पर पहुंचे उनके बड़े भाई दीपक ओझा को श्रद्धांजलि दी। वह बार एसोसिएशन के अध्यक्ष संतोष गुरयानी के निवास पर पहुंचे और वहां उनकी माता जी को श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री नीखरा वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद पगारे के निवास पर पहुंचे यहां भी उन्होंने उनके बड़े भाई वीरेंद्र पगारे को श्रद्धांजलि अर्पित की। वह वरिष्ठ अधिवक्ता बलदेव सोलंकी के निवास पर गए और उन्हें श्रद्धांजलि दी।

ज्ञात रहे कि कुछ दिन पूर्व वैष्णो देवी यात्रा के दौरान श्री सोलंकी का हृदय गति रुक जाने से निधन हो गया था। श्री नीखरा कांग्रेस के कद्दावर नेता पाली भाटिया के निवास पर गए और उन्हें भी श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री नीखरा के साथ कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष कपिल फौजदार पूर्व पार्षद राजेंद्र जोशी वरिष्ठ पत्रकार शिव भारद्वाज और अधिवक्ता रघुराज बघेल भी साथ थे।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!