प्रदेश कांग्रेस का राजभवन घेराव, शामिल हुए जिले के कांग्रेसी

इटारसी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (All India Congress Committee) के निर्देश पर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदेश स्तरीय राजभवन घेराव और मार्च आयोजित किया।

इस घेराव-पैदल मार्च में कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेताओं सहित नर्मदापुरम जिले से भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता भोपाल पहुंचे। कांग्रेस का घेराव कार्यक्रम जवाहर चौक से प्रारंभ हुआ, जनसभा के बाद सभी कांग्रेसजनों ने राजभवन का घेराव करने के लिए पैदल मार्च किया।

रोशनपुरा चौराहे के पहले ही कांग्रेसजनों को रोक लिया गया, जहां राजभवन के अधिकारियों को भाजपा सरकार की नीतियों सहित अन्य मुद्दों को लेकर वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं की अगुवाई में ज्ञापन सौंपा गया।

कमलनाथ ने घेराव-पैदल मार्च का नेतृत्व करते हुये प्रदेश भर से आये नेताओं, कांग्रेससियों, जिन्होंने 18-20 साल तक कांग्रेस का झंडा उठाया, उनकी निष्ठा उन्हें यहां खींचकर लायी है, जिन्होंने मुझे बल और शक्ति दी।

उन्होंने कहा कि यहां कोई पुरस्कार नहीं मिल रहा कोई ठेका नहीं मिल रहा कोई कमीशन नहीं मिल रही, यह तो आपकी निष्ठा है जो आपको यहां पर खींच कर लाई है, और सबसे बड़ी परीक्षा अगले छह महीनों में आपकी निष्ठा की है।

कमलनाथ ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि अगर आप सबने अपनी कमर कस ली तो हमें कोई नहीं रोक सकता, यह कांग्रेस के भविष्य की बात नहीं है, किसी उम्मीदवार के भविष्य की बात नहीं है, यह मध्यप्रदेश के भविष्य की बात है कि कैसा मध्यप्रदेश हम चाहते हैं।

कमलनाथ ने कहा कि आज मध्यप्रदेश का हर वर्ग परेशान है, हमारा भटकता हुआ नौजवान दुखी है, किसान खाद-बीज के लिए भटक रहा है, हमारा छोटा व्यापारी परेशान है, महिलाओं पर अत्याचार चरम पर है, आज सब वर्ग परेशान हैं। आपका कर्तव्य है, आपकी जिम्मेदारी है कि आप सब मिलकर मध्यप्रदेश को सही पटरी पर लाए और आगे आने वाली पीढिय़ों को हम ऐसा मध्यप्रदेश दे, जो देश में एक उदाहरण बने।

उन्होंने कहा कि आपको अपना सिर नहीं झुकाना है, छाती ठोंक कर कहे कि 15 महीनों में कांग्रेस ने अपनी नीति और नीयत का परिचय दिया और प्रदेश को विकास की पटरी पर लाने की शुरूआत की। लेकिन कुछ जयचंदों से मिलकर लोकतंत्र की हत्या कर शिवराज सिंह ने पीछे के दरवाजे से तिकड़मबाजी कर हमारी प्रदेश की जनता की चुनी हुई कांग्रेस सरकार गिरा दी।

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रदेश प्रवक्ता व जिला नर्मदापुरम कांग्रेस मीडिया विभाग प्रभारी राजकुमार केलू उपाध्याय ने कहा कि हजारों की संख्या में एकत्र कांग्रेस कार्यकर्ता जो जवाहर भवन से कूच करते हुए रोशनपुरा जा रहे थे तो शिवराज सरकार के इशारे पुलिस बल द्वारा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर भारी भरकम वॉटर केनन कर पानी की बौछार की गई और बर्बरतापूर्वक लाठी चार्ज भी किया गया जिससे कई कार्यकर्ता घायल हुये। सैकड़ों कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

कांग्रेस के महासचिव प्रदेश प्रभारी जेपी अग्रवाल, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व केंद्रीयमंत्री, विधायक जीतू पटवारी सहित कांग्रेस मोर्चा संगठनों के प्रदेश अध्यक्षों ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर पूर्व विधायक विजय दुबे काकूभाई, महेंद्र शर्मा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष पुष्पराज पटेल, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष, मोहन झलिया, चंद्रगोपाल मलैया, संतोष मालवीय, विजय बाबू चौधरी, पंकज राठौर, अजय अहिरवाल, सम्राट तिवारी, सुभाष कामले, राजेश राजपूत, कन्हैयालाल बामने, जिला पंचायत सदस्य हाकमसिंह गुर्जर, पूर्व सरपंच विमल, रामबाबू अग्रवाल, इरशाद अहमद सिद्दीकी, धर्मेंद्र मालवीय, रामशंकर सोनकर, राहुल दुबे, सोनू बकोरिया, दिलीप अहिरवार सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस पदाधिकारी और नर्मदापुरम जिले से अनेक कांग्रेसजन शामिल हुए।

CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!