जनता की रोटी पर पूंजीपतियों का अधिकार हो जाएगा : पटेल

जनता की रोटी पर पूंजीपतियों का अधिकार हो जाएगा : पटेल

इटारसी। केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Pm Narendra Modi)  की सरकार चुनौतियों को नजरअंदाज कर जिम्मेदारी से पलड़ा झाड़ रही है। मोदी अंग्रेजों की पद्धति से कार्य कर रहे हैं। सरकार पूंजीपतियों को बाजार और खेती दे रही है, आने वाले समय में जनता की रोटी पर भी पूंजीपतियों का एकाधिकार हो जाएगा। कृषि बिल यही है, अभी तो बिल आया है और पूंजीपतियों के गोदाम तैयार हो गये हैं। हमारी मांग है कि सरकार एमएसपी पर कानून बनाये, इससे कम पर जो खरीदी करे उसे जेल भेजा जाए। कांग्रेस इसी बात की लड़ाई लड़ रही है।
यह बात राज्यसभा सदस्य राजमणि पटेल (Rajya Sabha member Rajmani Patel) ने यहां रेस्ट हाउस परिसर में शहर की मीडिया से रूबरू होकर कही। वे यहां यादव भवन में वसंत पंचमी के अवसर पर श्रीकृष्ण-रुकमणि विवाह उत्सव में शामिल होने आये थे। उन्होंने यहां पिछड़ा वर्ग विभाग की बैठक भी ली। पटेल ने कहा कि संविधान से न्याय मांगने के लिए आमजन को भी कोर्ट जाने के अधिकार दिये हैं। लेकिन, नये बिल में किसान न्यायालय नहीं जा सकता। उसे एसडीएम कोर्ट में जाना होगा। कॉन्टेक्ट फार्मिंग से छोटे किसान खत्म हो जाएंगे। यह सोची समझी नीति है, जिससे कृषि भूमि पूंजीपतियों के हाथों चली जाएगी।

यह सबकी लड़ाई है
राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल (Rajya Sabha member Rajmani Patel) ने कहा कि यह केवल किसान की लड़ाई नहीं, सबकी लड़ाई है, इस नीति से हर वर्ग प्रभावित होगा। मोदी देश को एक देश, एक पार्टी की ओर ले जा रहे हैं, जबकि वन नेशन, वन एजुकेशन की ओर ले जाना चाहिए। देश में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ रही है, इस पर कोई चर्चा नहीं करता। राज्यसभा में चर्चा करने से कतराते हैं, मत विभाजन का अधिकार नहीं है। मंदिर-मस्जिद और गौ माता के नाम पर धर्मांधता बढ़ा रहे हैं। लाल किले में किसानों के प्रवेश की बात पर कहा कि वहां पूरी सुरक्षा सरकार के हाथ थी, कैसे एक व्यक्ति सबकी नजरों से निकलकर झंडा चढ़ा देता है। आप यदि एक को नहीं पकड़ सकते तो आपको सरकार चलाने का हक ही नहीं है।

20 फरवरी को होगा आंदोलन
राज्यसभा सदस्य पटेल ने कहा कि देश में बढ़ रही महंगाई के विरोध में कांग्रेस 20 फरवरी को प्रदेश में आंदोलन करेगी। मोदी सरकार सच्चाई की आवाज को दबाने का प्रयास कर रही है। लोगों को राजनीतिक प्रदूषण का शिकार बनाया जा रहा है। नगर पालिका चुनाव में प्रत्याशी की आयु को लेकर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा कि उम्र कोई मायने नहीं रखती, अलबत्ता युवाओं को आगे आना चाहिए। लेकिन, यदि उम्मीदवार जीतने वाला है तो उम्र का कोई बंधन नहीं होना चाहिए। जिले के संगठन को कमजोर बताने पर उन्होंने कहा कि कमजोर नहीं है, कुछ कमियां हो सकती हैं, उन्हें दूर किया जाएगा। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता एसपीएस यादव (Senior leader SPS Yadav), मोहन झलिया (Mohan Jhaliya), जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र फौजदार (District President Satyendra Faujdar), कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव (Madhusudan Yadav)), नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पंकज राठौर (Municipal Congress Committee President Pankaj Rathore), एडवोकेट रमेश के साहू (Advocate Ramesh K. Sahu), केसला ब्लाक अध्यक्ष हेमचंद कश्यप (Kesla block president Hemchand Kashyap), प्रवक्ता शैलेन्द्र पाली (Shailendra Pali) सहित अन्य नेता उपस्थित थे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW