अतिक्रमण: प्रशासन सख्त, बहुतों ने नहीं लिया सामान

अतिक्रमण: प्रशासन सख्त, बहुतों ने नहीं लिया सामान

इटारसी। शहर के बाजार क्षेत्र में अतिक्रमण (Encroachment) के मामले में प्रशासन ने अब सख्ती बरतना शुरु कर दिया है। एसडीएम (SDM) ने संकेत दिये हैं कि लगातार समझाईश के बावजूद नहीं मानने वालों को अब जेल भेजने की कार्रवाई प्रारंभ की जाएगी। आज गुरुवार को भी बाजार सहित लाइन क्षेत्र में अनेक लोगों का रोड तक रखा सामान जब्त किया। कुछ लोगों ने जुर्माने की रसीद कटाकर सामान वापस लिया तो बहुत लोग सामान वापस लेने ही नहीं आए, उनका सामान नपा के पास सुरक्षित रखा है।

आज सुबह से एसडीएम एमएस रघुवंशी (MS Raghuwanshi SDM) के नेतृत्व में नगर पालिका (Nagarpalika) और यातायात अमले ने अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई करना प्रारंभ किया। प्रशासन का रवैया काफी सख्त था। इस दौरान कुछ लोगों ने अक्खड़पन दिखाया तो एसडीएम रघुवंशी के तीखे तेवरों के आगे उनकी एक न चली। सुबह जयस्तंभ चौक के पास से चला अभियान तेरहवी लाइन तक पहुंचा। इस दौरान बहुत लोगों का सामान जब्त किया है।

बिना मास्क वालों से जुर्माना
नगर पालिका के अमले ने अतिक्रमण मुहिम के दौरान ही बाजार में बिना मास्क लगाये मिले लोगों से जुर्माना भी वसूला। कुछ दिन बिना मास्क कार्रवाई करने में प्रशासन की ढील के कारण लोगों ने फिर बाजार में बिना मास्क निकलना प्रारंभ कर दिया था। अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई के दौरान जो लोग बिना मास्क के नजर आए, एसडीएम रघुवंशी ने नगर पालिका अमले से जुर्माने की रसीद कटवायी। बिना मास्क जुर्माना से नगर पालिका के खाते में एक हजार कर राजस्व आया।

वेल्डिंग, जाली आदि जब्त किये
अतिक्रमण विरोधी अमले का नेतृत्व खुद एसडीएम एमएस रघुवंशी कर रहे थे। इस दौरान फल विक्रेताओं से जयस्तंभ चौक से लेकर भारत टाकीज, कल्पना ड्रेसेस के सामने वेल्डिंग का सामान, किराना दुकान से बाहर रखा सामान, तेरहवी लाइन से फ्लेक्स जाली और सराफा बाजार में भी सामान जब्त किया। इस दौरान दो इलेक्ट्रानिक, एक फर्नीचर सहित अन्य सामान जब्त किया और इन सामानों को जुर्माना लेकर वापस किया। इस कार्रवाई में नगर पालिका के राजस्व खाते में पांच हजार रुपए आये।

चबूतरों पर भी चली जेसीबी
तेरहवी लाइन में कीटनाशक की दुकानों के सामने रखे सामान भीतर कराये गये। इसी लाइन में जब अतिक्रमण अमला आगे बढ़ा तो यहां रहने वालों ने आंगन से भी आगे आकर बांस रखे थे। जालियों से आंगन के आगे रोड तक कब्जा करके रखा था। यहां के लोगों ने अतिक्रमण तोडऩे का मौखिक विरोध भी किया लेकिन, उनकी एक न चली और एसडीएम ने साफ कर दिया कि इस तरह से अतिक्रमण नहीं करने दिया जाएगा। इस दौरान कुछ स्थानों पर बनाये गये चबूतरों को भी तोड़ दिया गया।

जब्ती भी की, फल फैके भी
अतिक्रमण विरोधी अमले ने सब्जी मंडी में पहुंचकर शेड से बाहर दुकान लगाकर फल बेच रहे लोगों के सामान की जब्ती भी बनायी और कुछ लोगों का सामान भी फैला दिया। इस दौरान जमीन पर बैठकर फल बेचने वाली कुछ महिलाओं ने अफसरों से गुहार लगाकर अपनी परेशानी बतानी चाही, लेकिन किसी की एक नहीं सुनी गई। पिछले एक माह से लगातार प्रशासन फल वालों से रोड पर फल नहीं बेचकर चबूतरों पर बैठने का अनुरोध कर रहा है। लेकिन, इन लोगों पर कोई असर ही नहीं हो रहा है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: