पशुओं में लम्पी स्किन डिजीज दिखाई देने पर चिकित्सालय में संपर्क करें

पशुओं में लम्पी स्किन डिजीज दिखाई देने पर चिकित्सालय में संपर्क करें

उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं

होशंगाबाद। उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉक्टर जितेन्द्र कुल्हारे(Dr. jitendra kulhare) ने बताया कि जिले के विकासखण्ड केसला(Kesla), पिपरिया(Pipariya) एवं बनखेडी(Bankhedi) के कुछ ग्रामों में मुख्य रूप से गौवंशी पशुओं(Cattle animals) में एक नई बीमारी का प्रकोप देखने में आ रहा है। बीमारी में पशुओ के शरीर की त्वचा(Skin) पर गठाने बन जाती है। पशुओ को बुखार आता है साथ ही दुधारू पशुओ के दुग्ध उत्पादन में कमी आ जाती है। कुछ गठानो से मवाद भी आता है। इस बीमारी को लम्पी स्किन डिसीज(Lumpy skin disease) के नाम से जाना जाता है। जो कि एक वीषाणु जनित बीमारी है। जो मच्छर(Mosquito), मक्खी(house fly) एवं किलोनी के द्वारा फैलती है।

यह होती है बीमारी का सिम्टम्स(Symptoms)
उप संचालक ने बताया कि पशुओ के शरीर पर गठाने लंबे समय तक रहती है। इस बीमारी में पशु मृत्यु दर बहुत कम 1.2 प्रतिशत ही रहती है। उन्होने कहा है कि पशु पालको को घबराने की आवश्यकता नहीं है। पशुओ में इस प्रकार के रोग के लक्षण दिखाई देने पर तत्काल अपने निकटतम पशु चिकित्सालय, पशु औषद्यालय से संपर्क करें। उप संचालक ने सभी पशु पालको से आग्रह किया है कि वे इस रोग से ग्रसित पशुओ को स्वस्थ्य पशुओं से अलग रखें। पशुओ के शेड या बांधने के स्थान पर साफ सफाई रखी जाए साथ ही मच्छरए मक्खी को दूर भगाने हेतु नीम की पत्ती का धुंआ करें और पशुओ के शरीर पर किलोनियो का प्रकोप न होने दें।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: